फ्रेंच ओपन 2021: महिला एकल फाइनल में भिड़ेंगी बारबोरा और अनास्तासिया, रूसी खिलाड़ी के पास इतिहास रचने का मौका

0
3


29 साल की अनास्तासिया 50 से ज्यादा बड़े टूर्नामेंट खेलने वाली पहली महिला खिलाड़ी बन गई हैं। उन्होंने 15 साल की उम्र में 2007 के विंबलडन में वाइल्डकार्ड के रूप में प्रवेश करके ग्रैंड स्लैम की शुरुआत की।

अनास्तासिया के पास इतिहास रचने का मौका

यह 52वीं बार था जब अनास्तासिया ने ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट के मुख्य ड्रॉ में जगह बनाई थी। अनास्तासिया 2015 के बाद से किसी ग्रैंड स्लैम के फाइनल में जगह बनाने वाली पहली रूसी महिला खिलाड़ी भी हैं। उनसे पहले रूस की मारिया शारापोवा ने ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में जगह बनाई, जहां वह अमेरिका की सेरेना विलियम्स से हार गईं।

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल: विराट की सेना ने लगाया पसीना, BCCI ने जारी किया वीडियो

.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here