चीन में 1,000 साल बाद सबसे भीषण बारिश, अस्पतालों में घुसा पानी

0
4


बीजिंग: चीन में पिछले 1,000 वर्षों में हुई सबसे भारी बारिश में मरने वालों की संख्या 33 हो गई है और आठ लोग लापता हैं। बाढ़ प्रभावित झेंग्झौ शहर के अधिकारी अस्पतालों में फंसे मरीजों और चिकित्साकर्मियों को बाढ़ के पानी से बचाने की कोशिश कर रहे हैं। अधिकारियों ने गुरुवार को यह जानकारी दी। प्रांतीय आपातकालीन प्रबंधन विभाग ने कहा कि मूसलाधार बारिश से हेनान प्रांत में लगभग 30 लाख लोग प्रभावित हुए हैं और कुल 3,76,000 स्थानीय लोगों को निकाला गया है।

फुवाई अस्पताल में बाढ़ का पानी घुस गया है। गुरुवार की सुबह बचावकर्मी मरीजों, उनके परिजनों और चिकित्साकर्मियों को अन्य जगहों पर ले जाने लगे. अब तक करीब पांच हजार लोगों को निकाला जा चुका है।

अस्पताल के उपाध्यक्ष गाओ चुआन्यू ने सिन्हुआ को बताया, ”1,075 मरीज, जिनमें से 69 की हालत गंभीर है, अस्पताल में भर्ती हैं। रिश्तेदारों की संख्या लगभग १,३०० है।”

सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, भारी बारिश से 2,15,200 हेक्टेयर से अधिक क्षेत्र में फसलों को नुकसान पहुंचा है. इससे करीब 1.22 अरब युआन (करीब 1886 मिलियन अमेरिकी डॉलर) का सीधा आर्थिक नुकसान हुआ है।

राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने बाढ़ की स्थिति को गंभीर बताते हुए पीएलए की तैनाती का आदेश दिया और कहा कि सभी स्तर के अधिकारी जान-माल की सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता दें.

सिन्हुआ ने शी के हवाले से कहा कि बारिश ने बाढ़ नियंत्रण की स्थिति को बढ़ा दिया है, जिससे झेंग्झौ और अन्य शहरों में व्यापक जलभराव हो गया है। कई नदियों का पानी खतरनाक स्तर तक पहुंच गया है. झेंग्झौडोंग रेलवे स्टेशन पर 160 से अधिक यात्री ट्रेनों को रोका गया। झेंग्झौ हवाई अड्डे पर 260 उड़ानें रद्द कर दी गईं।

भारत ने विदेशी सरकारों से भारतीयों के लिए यात्रा प्रतिबंधों में ढील देने का आग्रह किया

.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here