घटती जन्म दर से परेशान ईरान का नया फॉर्मूला, लॉन्च हुआ ऐप ‘हमदम’

0
2


तेहरान: ईरान पिछले कुछ वर्षों से कम प्रजनन दर की समस्या का सामना कर रहा है। कई अन्य देशों की तुलना में ईरान में जन्म दर में काफी कमी आई है। इसी समस्या से निपटने के लिए सरकार ने यहां मैचमेकिंग ऐप लॉन्च किया है। इस ऐप के जरिए युवा अपना जीवन साथी चुन सकेंगे।

इस ऐप का नाम ‘हमदम’ है। यह ऐप सरकारी इस्लामिक कल्चरल बॉडी द्वारा बनाया गया है। इस पर सबसे पहले युवाओं को अपनी पूरी जानकारी देनी होगी। ऐप यूजर की पहचान की पुष्टि करेगा और गलत जानकारी देने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। ऐप पर युवाओं को रुचि, पसंद, नापसंद आदि के बारे में बताना होगा। ऐप मनोवैज्ञानिक अनुकूलता का भी परीक्षण करता है। युवाओं द्वारा दी गई जानकारी के आधार पर एप जीवन साथी खोजने के लिए सुझाव देता है।

ऐप चार साल तक जोड़े के संपर्क में रहेगा
इसके अलावा, यह संभावित जोड़ों के परिवारों को मिलान और परामर्श प्रदान करता है। इसके साथ ही कपल को शादी के बाद चार साल तक एप पर एक्टिव रहना होगा। यानी एप टच में रहकर उन पर नजर रखेगा।

पारंपरिक तरीके से शादी करना युवाओं को पसंद नहीं
दरअसल, ईरान में इस्लामिक कानून के मुताबिक पश्चिमी देशों की तरह डेटिंग और शादी पर भी पाबंदी है। वहीं, कई युवाओं को ईरान में शादी करने का पारंपरिक तरीका पसंद नहीं है। ऐसे में ईरान अपनी घटती जनसंख्या को लेकर चिंतित है। ईरान में महिलाओं में प्रजनन दर चार वर्षों में 25% गिरकर प्रति महिला 1.7 बच्चे हो गई है।

जन्म दर बढ़ाने के लिए सरकार ने कई कदम उठाए हैं
गौरतलब है कि ईरान ने करीब एक दशक पहले परिवार नियोजन नीति में बदलाव करना शुरू किया था। जन्म नियंत्रण की गोलियों पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। नीति में कई बदलावों ने लोगों के लिए सुरक्षित गर्भनिरोधक सामान प्राप्त करना मुश्किल बना दिया। 2014 में, ईरान के सबसे बड़े नेता, अयातुल्ला खामेनेई ने एक आदेश दिया, जिसमें कहा गया था कि जनसंख्या को बढ़ावा देने से राष्ट्रीय पहचान मजबूत होगी और पश्चिमी जीवन शैली के गलत पहलुओं का मुकाबला करने में मदद मिलेगी। इसके बाद ईरान की संसद ने भी शादियों और बच्चों के जन्म को बढ़ावा देने के लिए कई नियम बनाए।
 
यह भी पढ़ें-
मेक्सिको: पेगासस ‘स्पाइवेयर’ पूर्व प्रशासन ने खरीदने के लिए सरकारी फंड से 30 करोड़ डॉलर खर्च किए

चीन बाढ़: चीन में बाढ़ से 12 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित, 25 की मौत, बचाव के लिए दौड़ी सेना

.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here